आरती कुंज बिहारी की AARTI KUNJ BIHARI KI LYRICS - KRISHAN BHAJAN

Aarti Kunj Bihari Ki lyrics

Aarti Kunj Bihari Ki lyrics in Hindi from album Mere Ghanshyam, sung by Anuradha Paudwal, lyrics written by Traditional and music created by Vikram Nagi.

Krishna Aarti: Aarti Kunj Bihari Ki Song
Album: Mere Ghanshyam
Singer: Anuradha Paudwal
Music: Vikram Nagi
Lyrics: Traditional
Music Label: T-Series

Aarti Kunj Bihari Ki Lyrics

आरती कुंज बिहारी की
श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की
आरती कुंज बिहारी की
श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की
आरती कुंज बिहारी की
श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की

गले में बैजंती माला
बजावे मुरली मधुर बाला
श्रवण में कुंडल झलकाला
नन्द के आनंद नन्दलाला
गगन सम अंग कांति काली
राधिका चमक रही आली
लटन में ठाढ़े बनमाली भ्रमर सो अलक
कस्तूरी तिलक चन्द्र सी झलक
ललित छवि श्यामा प्यारी की
श्रीगिरीधर कृष्ण मुरारी की

आरती कुंज बिहारी की
श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की

कनकमय मोर मुकुट बिलसे
देवता दर्शन को तरसे
गगन सो सुमन रासी बरसे

बजे मुरचंग, मधुर मिरदंग, ग्वालिन संग

अतुल रति गोप कुमारी की
श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की

आरती कुंज बिहारी की
श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की
आरती कुंज बिहारी की
श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की

जहाँ ते प्रकट भाई गंगा
कलुष कलि हरिणी श्री गंगा
स्मरण से होत मोह भंगा
बसी शिव शीष, जटा के बीच, हरे अघ कीच

चरण छवि श्री बनवारी की
श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की

आरती कुंज बिहारी की
श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की
आरती कुंज बिहारी की
श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की

चमकती उज्जवल तट रेणु
बज रही वृन्दावन बेणु
चाहूँ दिशी गोपी ग्वाल धेनु

हंसत मृदु मंद, चांदनी चंद, कटक भव फंद

टेर सुन दीन भिखारी की
श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की

आरती कुंज बिहारी की
श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की
आरती कुंज बिहारी की
श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की
आरती कुंज बिहारी की
श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की...

Aarti Kunj Bihari Ki Video Song 


आरती कुंज बिहारी की AARTI KUNJ BIHARI KI LYRICS - KRISHAN BHAJAN आरती कुंज बिहारी की AARTI KUNJ BIHARI KI LYRICS - KRISHAN BHAJAN Reviewed by Amitesh on 22:30 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.