फूलों में सज रहे हैं Phoolon Mein Saj Rahe Hain Lyrics – Vinod Agarwal

Phoolon Mein Saj Rahe Hain Lyrics in Hindi, sung by Vinod Agarwal, enjoy this popular krishna bhajn and Lovely Lord Shri Krishna Devotional Song.

Phoolon Mein Saj Rahe Hain Lyrics

Bhjan: Phoolon Mein Saj Rahe Hain
Singer: Vinod Agarwal

Phoolon Mein Saj Rahe Hain Lyrics in Hindi 



फूलों में सज रहे हैं
श्री वृंदा बिहारी
फूलों में सज रहे हैं
श्री वृंदा बिहारी

फूलों में सज रहे हैं
श्री वृंदा बिहारी
फूलों में सज रहे हैं
श्री वृंदा बिहारी

और साथ सज रही हैं
श्री वृषभानु की दुलारी
और साथ सज रही हैं
श्री वृषभानु की दुलारी
और साथ सज रही हैं
श्री वृषभानु की दुलारी
और साथ सज रही हैं
श्री वृषभानु की दुलारी

टेढ़ा सा मुकुट सिर पर
रखा है किस अदा से
टेढ़ा सा मुकुट सिर पर
रखा है किस अदा से

करुणा बरस रही हैं
करुणा भरी नज़र से
करुणा बरस रही हैं
करुणा भरी नज़र से
करुणा बरस रही हैं
करुणा भरी नज़र से
करुणा बरस रही हैं
करुणा भरी नज़र से

बिन मोल बिक गए हैं
जबसे छवि निहारी
बिन मोल बिक गए हैं
जबसे छवि निहारी
बिन मोल बिक गए हैं
जबसे छवि निहारी
बिन मोल बिक गए हैं
जबसे छवि निहारी

फूलों में सज रहे हैं
श्री वृंदा बिहारी
फूलों में सज रहे हैं
श्री वृंदा बिहारी

बहिया गले में डाले
जब दोनों मुस्कुराते
बहिया गले में डाले
जब दोनों मुस्कुराते
हाँ बहिया गले में डाले
जब दोनों मुस्कुराते
बहिया गले में डाले
जब दोनों मुस्कुराते

हाँ सबको ही प्यारे लगते
सबके ही मन को भाते
सबको ही प्यारे लगते
सबके ही मन को भाते
हाँ सबको ही प्यारे लगते
सबके ही मन को भाते
सबको ही प्यारे लगते
सबके ही मन को भाते

हाँ इन दोनों पे मैं सदके
ओ सदके
इन दोनों पे मैं सदके
इन दोनों पे मैं वारी
इन दोनों पे मैं सदके
इन दोनों पे मैं वारी
आ इन दोनों पे मैं सदके
ओ सदके
इन दोनों पे मैं सदके
इन दोनों पे मैं वारी
इन दोनों पे मैं सदके
इन दोनों पे मैं वारी

फूलों में सज रहे हैं
श्री वृंदा बिहारी
फूलों में सज रहे हैं
श्री वृंदा बिहारी

श्रृंगार तेरा प्यारे
शोभा कहूँ क्या उसकी
श्रृंगार तेरा प्यारे
शोभा कहूँ क्या उसकी
हाँ श्रृंगार तेरा प्यारे
शोभा कहूँ क्या उसकी
श्रृंगार तेरा प्यारे
शोभा कहूँ क्या उसकी

इसपे गुलाबी पटुका, पादुका
इसपे गुलाबी पटुका
उसपे गुलाबी साड़ी
इसपे गुलाबी पटुका
उसपे गुलाबी साड़ी

फूलों में सज रहे हैं
श्री वृंदा बिहारी
फूलों में सज रहे हैं
श्री वृंदा बिहारी

गोटा जड़ा पीतांबर
चुनरी सजी किनारी

नीलम से सोहे मोहन
स्वर्णिम सी सोहे राधा
नीलम से सोहे मोहन
स्वर्णिम सी सोहे राधा
आ नीलम से सोहे मोहन
स्वर्णिम सी सोहे राधा
नीलम से सोहे मोहन
स्वर्णिम सी सोहे राधा

इत सावंरा सलोना,
उत चंद पूर्णिमा का
इत नंद का है छोरा, छोरा
इत नंद का है छोरा
उत भानु की दुलारी
इत नंद का है छोरा
उत भानु की दुलारी
इत नंद का है छोरा, छोरा
इत नंद का है छोरा
उत भानु की दुलारी

फूलों में सज रहे हैं
श्री वृंदा बिहारी
फूलों में सज रहे हैं
श्री वृंदा बिहारी

चुन चुन के कलियाँ जिसने
बंगला तेरा बनाया
चुन चुन के कलियाँ जिसने
बंगला तेरा बनाया
चुन चुन के कलियाँ जिसने
बंगला तेरा बनाया
चुन चुन के कलियाँ जिसने
बंगला तेरा बनाया

दिव्य आभूषणों से
जिसने तुझे सजाया
दिव्य आभूषणों से
जिसने तुझे सजाया
उन हाथों पे मैं सदके, सदके
उन हाथों पे मैं सदके
उन हाथों पे मैं वारी
उन हाथों पे मैं सदके,
हो सदके
उन हाथों पे मैं वारी

फूलों में सज रहे हैं
श्री वृंदा बिहारी
फूलों में सज रहे हैं
श्री वृंदा बिहारी
और साथ सज रही हैं
श्री वृषभानु की दुलारी
और साथ सज रही हैं
श्री वृषभानु की दुलारी
और साथ सज रही हैं
श्री वृषभानु की दुलारी
और साथ सज रही हैं
श्री वृषभानु की दुलारी

More Krishna Bhajans:
कर्मण्येवाधिकारस्ते Karmanye Vadhikaraste
भज गोविन्दम् BHAJAGOVINDAM
श्री हरि स्तोत्रम् Shree Hari Stotram
कितना प्यारा है श्रृंगार Kitna Pyara Hai Shringar
श्री गोवर्धन महाराज Shri Goverdhan Maharaj
श्री कृष्णा गोविन्द हरे मुरारी Shri Krishna Govind Hare Murari
बनवारी रे जीने का सहारा तेरा नाम रे Banwari Re Jeene Ka Sahara
कर्मण्येवाधिकारस्ते Karmanye Vadhikaraste Shloka
फूलों में सज रहे हैं Phoolon Mein Saj Rahe Hain
Kabhi Ram Banke Kabhi Shayam Banke
राधे राधे Radhe Radhe
मैं आरती तेरी गाऊं Main Aarti Teri Gaaun(Full)
कितना प्यारा है श्रृंगार Kitna Pyara Hai Shringar
Krishna Krishna Hai
एक राधा एक मीरा Ek Radha Ek Meera
श्री जगन्नाथ आरती Shri Jagganath Aarti
मैं तो आई वृन्दावन धाम Main To Aai Vrindavan Dham
श्रीकृष्ण शरणाष्टक Krishna Sharanam Ashtakam

Phoolon Mein Saj Rahe Hain Lyrics in English

Phoolon main saj rahe hain
Sri vrinda bihari
Phoolon main saj rahe hain
Sri vrinda bihari

Phoolon main saj rahe hain
Sri vrinda bihari
Phoolon main saj rahe hain
Sri vrinda bihari

Aour sath saj rhe hain
Sri vrishbhanu ki dulari
Aour sath saj rhi hain
Sri vrishbhanu ki dulari
Aour sath saj rhi hain
Sri vrishbhanu ki dulari
Aour sath saj rhi hain
Sri vrishbhanu ki dulari

Tedir tedha sa mukut sir par
Rkha hai kis ada se
Tedir tedha sa mukut sir par
Rkha hai kis ada se

Karun brs rahi hain
Karun bhri njar se
Karun brs rahi hain
Karun bhri njar se
Karun brs rahi hain
Karun bhri njar se
Karun brs rahi hain
Karun bhri njar se

Bin mol bik gya hain
Jab se chvi nihari
Bin mol bik gya hain
Jab se chvi nihari
Bin mol bik gya hain
Jab se chvi nihari
Bin mol bik gya hain
Jab se chvi nihari

Phoolon main saj rahe hain
Sri vrinda bihari
Phoolon main saj rahe hain
Sri vrinda bihari

Bhiya gle main dale
Jab dono muskurate
Bhiya gle main dale
Jab dono muskurate
Haan bhiya gle main dale
Jab dono muskurate
Bhiya gle main dale
Jab dono muskurate

Haan sabko hi payare lgte
Sabko hi man ko bhate
Sabko hi payare lgte
Sabko hi man ko bhate
Haan sabko hi payare lgte
Sabko hi man ko bhate
Sabko hi payare lgte
Sabko hi man ko bhate

Haan en dono pe main sadke
Ao sdke
En dono pe main sadke
En dono pe main vari
En dono pe main sadke
En dono pe main vari
Aa en dono pe main sadke
Ao sdke
En dono pe main sadke
En dono pe main vari
En dono pe main sadke
En dono pe main vari

Phoolon main saj rahe hain
Sri vrinda bihari
Phoolon main saj rahe hain
Sri vrinda bihari

Srngar tera pyar
Shobha khun kya uski
Srngar tera pyar
Shobha khun kya uski
Haan srngar tera pyar
Shobha khun kya uski
Srngar tera pyar
Shobha khun kya uski

Espe gulabi ptuka paduka
Espe gulabi ptuka
Uspe gulabi saadi
Espe gulabi ptuka
Uspe gulabi saadi

Phoolon main saj rahe hain
Sri vrinda bihari
Phoolon main saj rahe hain
Sri vrinda bihari

Gota joda pitanbr
Cunri sji kinari

Nilm se sohe mohan
Svrnim si sohe radha
Nilm se sohe mohan
Svrnim si sohe radha
Aa nilm se sohe mohan
Svrnim si sohe radha
Nilm se sohe mohan
Svrnim si sohe radha

Et savnra slona
Ut chand purnima ka
Et nnd ka hai chora chora
Et nand ka hai chor
Ut bhanu ki dulari
Et nand ka hai chor
Ut bhanu ki dulari
Et nnd ka hai chora chora
Et nand ka hai chor
Ut bhanu ki dulari

Phoolon main saj rahe hain
Sri vrinda bihari
Phoolon main saj rahe hain
Sri vrinda bihari

Chun chun ke kliyaan jisne
Bnglaa tera bnaya
Chun chun ke kliyaan jisne
Bnglaa tera bnaya
Chun chun ke kliyaan jisne
Bnglaa tera bnaya
Chun chun ke kliyaan jisne
Bnglaa tera bnaya

Divy aabhushanon se
Jisne tuj sjaya
Divy aabhushanon se
Jisne tuj sjaya
Un hatho pe main sadke sadke
Un hatho pe main sadke
Un hathon pe main vari
Un hatho pe main sadke
Ho sdke
Unhathon pe main vari

Phoolon main saj rahe hain
Sri vrinda bihari
Phoolon main saj rahe hain
Sri vrinda bihari
Aour sath saj rahi hain
Sri vrishbhanu ki dulari
Aour sath saj rahi hain
Sri vrishbhanu ki dulari
Aour sath saj rahi hain
Sri vrishbhanu ki dulari
Aour sath saj rahi hain
Sri vrishbhanu ki dulari