राम को देख के जनक नंदिनी Ram Ko Dekh Ke Janak Nandini Lyrics – Prakash Gandhi

Ram Ko Dekh Kar Shri Janak Nandini Lyrics Hindi and English, This charming Ram Bhakti song has been sung by Prakash Gandhi. Lyrics are Traditional and music created by Gandhi Brothers (Prakash-Subhash Gandhi).

Ram Ko Dekh Ke Janak Nandini Lyrics

Song: Ram Ko Dekh Kar Shri Janak Nandini
Singer: Prakash Gandhi
Lyrics: Traditional
Music: Gandhi Brothers (Prakash-Subhash Gandhi)
Music Label: Power Music Company

Ram Ko Dekh Ke Janak Nandini Lyrics in Hindi



राम को देख कर श्री जनक नंदिनी
बाग में वो खड़ी की खड़ी रह गयी
राम को देख कर श्री जनक नंदिनी
बाग में वो खड़ी की खड़ी रह गयी

राम देखे सिया माँ सिया राम को
चार अँखिया लड़ी की लड़ी रह गयी
राम देखे सिया माँ सिया राम को
चार अँखिया लड़ी की लड़ी रह गयी

राम को देख कर…

थे जनक पुर गये देखने के लिए
थे जनक पुर गये देखने के लिए
सारी सखियाँ झरोखो से झाँकन लगी
सारी सखियाँ झरोखो से झाँकन लगी

देखते ही नजर मिल गयी प्रेम की
जो जहाँ थी खड़ी की खड़ी रह गयी
देखते ही नजर मिल गयी प्रेम की
जो जहाँ थी खड़ी की खड़ी रह गयी

राम को देख कर श्री जनक नंदिनी
बाग में वो खड़ी की खड़ी रह गयी

बोली एक सखी राम को देखकर
बोली एक सखी राम को देखकर
रच दिए हैं विधाता ने जोड़ी सुघर
रच दिए हैं विधाता ने जोड़ी सुघर

पर धनुष कैसे तोड़ेंगे वारे कुंवर
मन में शंका बनी की बनी रह गयी
पर धनुष कैसे तोड़ेंगे वारे कुंवर
मन में शंका बनी की बनी रह गयी

राम को देख कर श्री जनक नंदिनी
बाग में वो खड़ी की खड़ी रह गयी

बोली दूजी सखी छोट देखन में है
बोली दूजी सखी छोट देखन में है
पर चमत्कार इनका नहीं जानती
पर चमत्कार इनका नहीं जानती

एक ही बाण में ताड़िका राक्षसी
उठ सकी ना पड़ी की पड़ी रह गयी
एक ही बाण में ताड़िका राक्षसी
उठ सकी ना पड़ी की पड़ी रह गयी

राम को देख कर श्री जनक नंदिनी
बाग में वो खड़ी की खड़ी रह गयी

More Hindi Ram Ji Ke Bhajan

Ram Ko Dekh Ke Janak Nandini Lyrics in English

Ram ko dekh kar shri janak nandini
Bag mein wo khadi ki khadi rah gayi
Ram ko dekh kar shri janak nandini
Bag mein wo khadi ki khadi rah gayi

Ram dekhe siya maa siya ram ko
Char ankhiya ladi ki ladi rah gayi
Ram dekhe siya maa siya ram ko
Char ankhiya ladi ki ladi rah gayi

Ram ko dekh kar…

The janakpur gaye dekhne ke liye
The janakpur gaye dekhne ke liye
Saari sakhiyan jharokho se jhakan lagi
Saari sakhiyan jharokho se jhakan lagi

Dekhte hi nazar mil gayi prem ki
Jo jahan thi khadi ki khadi reh gayi
Dekhte hi nazar mil gayi prem ki
Jo jahan thi khadi ki khadi reh gayi

Ram ko dekh kar shri janak nandini
Bag mein wo khadi ki khadi rah gayi

Boli ek sakhi ram ko dekhkar
Boli ek sakhi ram ko dekhkar
Rach diyi hain vidhata ne jodi sughar
Rach diyi hain vidhata ne jodi sughar

Par dhanush kaise todenge vaare kunwar
Man mein shanka bani ki bani rah gayi
Par dhanush kaise todenge vaare kunwar
Man mein shanka bani ki bani rah gayi

Ram ko dekh kar shri janak nandini
Bag mein wo khadi ki khadi rah gayi

Boli duji sakhi chhot dekhan mein hai
Boli duji sakhi chhot dekhan mein hai
Par chamatkaar inka nahi janti
Par chamatkaar inka nahi janti

Ek hi baan mein tadika rakshasi
Uth saki naa padi ki padi reh gayi
Ek hi baan mein tadika rakshasi
Uth saki naa padi ki padi reh gayi

Ram ko dekh kar shri janak nandini
Bag mein wo khadi ki khadi rah gayi



Hindibhajan is a one-stop destination for Hindu devotional content, offering a vast collection of Aarti lyrics, Mantras, Stotras, and Chalisas. The website caters to spiritual seekers and devotees, providing easy access to a rich repository of sacred hymns and chants in Hindi.