ज्ञानवापी Gyanvapi Lyrics – Hansraj Raghuwanshi

Gyanvapi lyrics in Hindi, Sung by Hansraj Raghuwanshi, lyrics written by Shekhar Astitwa, Kabeer Shukla and music created by DJ Strings. Star Cast Hansraj Raghwanshi.

Gyanvapi Lyrics

Song: Gyanvapi
Singer: Hansraj Raghuwanshi
Lyrics: Shekhar Astitwa, Kabeer Shukla
Music: DJ Strings
Music Label: Hansraj Raghuwanshi

Gyanvapi Lyrics in English



Shivam shivam

Hai vishwanath baba
Sabse bada pratapi
Uska hi banaras hai
Uska hi gyanvapi

Hai vishwanath baba
Sabse bada pratapi
Uska hi banaras hai
Uska hi gyanvapi
Uska hi gyanvapi

Hum uska karz saans yeh
De kar chukayenge
Mandir jahan tha
Phir wahi mandir banayenge

Mandir jahan tha
Phir wahi mandir banayenge
Mandir jahan tha
Phir wahi mandir banayenge

Hum bhole ke bhagat hain
Fakkad mijaaz wale
Masti mein hain magan hum
Duniya se hai nirale

Hum bhole ke bhagat hain
Fakkad mijaaz wale
Masti mein hain magan hum
Duniya se hai nirale

Hum kashi vishwanath se
Vaada nibhayenge baba

Mandir jahan tha
Phir wahi mandir banayenge
Mandir jahan tha
Phir wahi mandir banayenge

Mandir jahan tha
Phir wahi mandir banayenge
Shivam shivam

Aayi bhagwe ki lehar hai
Mandir hai sajne wala
Kailashi aaye kashi
Damru hai bajne wala

Aayi bhagwe ki lehar hai
Mandir hai sajne wala
Kailashi aaye kashi
Damru hai bajne wala

Bas uske saamne hi
Apna sar jhukayenge bhole

Mandir jahan tha
Phir wahin mandir banayenge
Mandir jahan tha
Phir wahi mandir banayenge

Mandir jahan tha
Phir wahi mandir banayenge

More Shiv Hindi Bhajan:

Gyanvapi Lyrics in Hindi

शिवम् शिवम्

है विश्वनाथ बाबा
सबसे बड़ा प्रतापी
उसका ही बनारस है
उसका ही ज्ञानवापी

है विश्वनाथ बाबा
सबसे बड़ा प्रतापी
उसका ही बनारस है
उसका ही ज्ञानवापी
उसका ही ज्ञानवापी

हम उसका क़र्ज़ सांस ये
दे कर चुकाएंगे
मंदिर जहाँ था
फिर वही मंदिर बनाएंगे

मंदिर जहाँ था
फिर वही मंदिर बनाएंगे
मंदिर जहाँ था
फिर वही मंदिर बनाएंगे

हम भोले के भक्त हैं
फक्कड़ मिज़ाज़ वाले
मस्ती में हैं मगन हम
दुनिया से है निराले

हम भोले के भक्त हैं
फक्कड़ मिज़ाज़ वाले
मस्ती में हैं मगन हम
दुनिया से है निराले

हम काशी विश्वनाथ से
वादा निभाएंगे बाबा

मंदिर जहाँ था
फिर वही मंदिर बनाएंगे
मंदिर जहाँ था
फिर वही मंदिर बनाएंगे

मंदिर जहाँ था
फिर वही मंदिर बनाएंगे
शिवम् शिवम्

आई भगवे की लहर है
मंदिर है सजने वाला
कैलाशी आये काशी
डमरू है बजने वाला

आई भगवे की लहर है
मंदिर है सजने वाला
कैलाशी आये काशी
डमरू है बजने वाला

बस उसके सामने ही
अपना सर झुकाएंगे भोले

मंदिर जहाँ था
फिर वही मंदिर बनाएंगे
मंदिर जहाँ था
फिर वही मंदिर बनाएंगे

मंदिर जहाँ था
फिर वही मंदिर बनाएंगे



Hindibhajan is a one-stop destination for Hindu devotional content, offering a vast collection of Aarti lyrics, Mantras, Stotras, and Chalisas. The website caters to spiritual seekers and devotees, providing easy access to a rich repository of sacred hymns and chants in Hindi.